PCS

ब्रिटिश सरकार द्वारा भारतीय क्षेत्रो का प्रशासन अपने अनुरुप चलाने एवं उठते हुए विरोध को दबाने के माध्यम के रुप में अधिकारियो को चयनित करने के लिेए 1 अक्टूबर 1926 को लोक सेवा आयोग का गठन किया गया। चूकि इसके पास केवल सीमित अधिकार ही थे परिणामतः राष्ट्रवादियो की भावनाओ को सन्तुष्ट न कर सका और राष्ट्रवादियो व्दारा इसमें सुधार की मांग की जाने लगी । इसी के परिणामस्वरुप भारत शासन अधिनियम1935 में संघीय लोक सेवा आयोग का प्रवधान किया गया तथा कुछ अतिरिक्त अधिकार एवं शक्तियां दी गई । इसी में प्रान्तीय स्तर पर लोक सेवा आयोग की स्थापना की बात भी की गई ।
आजादी के बाद भारतीय संविधान निर्माताओ व्दारा इसे भारतीय रुप में ढालने का प्रयास किया गया । संघीय एवं प्रान्तीय लोक सेवा आयोग को संवैधानिक स्थिति प्रदान कर प्रतिभाशाली एवं दक्ष लोक सेवको के चयन के लिए स्वतन्त्र संस्था का रुप दिया गया और 26 जनवरी 1950 को इसे संघ लोक सेवा आयोग का नाम दिया गया।
भारतीय संविधान के भाग में अनुच्छेद 315 से 323 लोक सेवा तक के आयोग में 5 गठन कार्य एवं शक्तियो का उल्लेख किया गया।इसमें एक अध्यक्ष एवं 10 सदस्य होते है। संविधान के अनुच्छेद 320 के तहत USPC के द्वारा तीन विधियो से चयन किया जाता है जिनमें सीधी भर्ती पदोन्नति एवं स्थानान्तरण शामिल है । सीधी भर्ती में प्रतियोगिता परीक्षा के द्वारा सिविल सेवाओ एवं रक्षा मंत्रालय के तहत NDA, CDS,CAPF आदि चयन प्रक्रियाओ का आरम्भ करता है।
सिविल सेवाओ के अन्तर्गत IAS, IPS,IFS,IRS आदि परीक्षाएं UPSC द्वारा वार्षिक आधार पर आयोजित की जाती है। इस प्रकार संघ लोक सेवा आयोग योग्य एवं उत्साही युवाओ को देश की सेवा करने का एक उत्क्रष्ठ आधार प्रदान कराता है। और हमारी ever exam टीम UPSC के द्वारा ली जाने वाली विभिन्न परीक्षाओ की तैयारी करने वाले छात्रो को आवश्यक एवं सही मार्गदर्शन प्रदान कर शिखर पर पहुचने का मार्ग प्रशस्त कराता है।

UPPSC

UPPSC Exam Pattern 2016
UPPSC Syllabus
UPPSC Study Material
UPPSC Quiz
UPPSC Test Series
UPPSC Previous Paper (Test)
UPPSC Current Affairs
UPPSC Previous Paper (PDF)

अखिल भारतीय सेवाओ के अतिरिक्त राज्यो में उच्च पदो के अधिकारियो के चयन के लिए प्रान्तीय सिविल सेवा आयोग होते है । उन्ही में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग जो कि विशेषतः उत्तर प्रदेश के अधिकारियो के चयन के लिए प्रतिबध्द है। चूकि इसे संविधान के भाग X I V में सम्मिलित कर इसकी स्वतन्त्रता, स्वायत्तता एवं पारदर्शिता सुनिश्चित करने का प्रयास किया गया है जिससे उत्तर प्रदेश को योग्य प्रशासक उपलब्ध हो सके।
इस प्रकार उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग व्दारा राज्य प्रशासनिक सेवा, राज्य पुलिस सेवा आदि अनेक परीक्षाएं आयोजित करायी जाती है जिनके चयन में तीन चरणो से गुजरना होता है प्रारम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा एवं साक्षात्कार लोक सेवा आयोग व्दारा ली जाने वाली परीक्षा के प्रत्येक चरण की तैयारी के लिए अलग अलग रणनीति की आवश्यकता होती है प्रारम्भिक परीक्षा के लिए सामान्य अध्ययन की विस्तृत जानकारी के साथ – साथ सामान्य गणित , अभियोग्यता एवं अंग्रेजी केे प्रश्न होते है मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए दो प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन के साथ- साथ निबन्ध एवं दो वैकल्पिक विषय के प्रश्न पत्र भी होते है ।
इस प्रकार लोक सेवा आयोग व्दारा ली जाने वाली नागरिक सेवाओ के लिए विस्तृत तैयारी एवं रणनीति की आवश्यकता होती है चूकि इसकी कमी में हर वर्ष छात्र अपने लक्ष्य से भटक जाते है एेसा न हो इसके लिए EVER EXAM ने U P P S C की तैयारी करने वाले प्रतिभागियो के लिेए विशेष प्रयास कर अध्ययन सामाग्री, टेस्ट पेपर एवं आवश्यक अन्य जानकारी विशेषज्ञो तथा तैयारी कर रहे एवं सफल विध्दार्थियो के उचित मार्गदर्शन प्रदान कराने का प्रयास किया गया है।
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग व्दारा न केवल सीधी भर्ती में बल्कि उत्तर प्रदेश सरकार व्दारा की जाने वाली अन्य भर्तियो में भी उचित परामर्श प्रदान करता है तथा राज्यपाल व्दारा मांगी गई अन्य परामर्श को भी उपलब्ध कराता है । वर्तमान में अपनी भर्ती प्रक्रिया में इसने कई परिवर्तन किए है जिससे पारदर्शिता में वृध्दि एवं योग्यता को आकर्षित किया जा सके

UPPSC Exam Pattern 2016 In Hindi
UPPSC Syllabus In Hindi
UPPSC Study Material In Hindi
UPPSC Quiz In Hindi
UPPSC Test Series In Hindi
UPPSC Previous Paper (Test) In Hindi
UPPSC Current Affairs In Hindi
UPPSC Previous Paper (PDF)


MPPSC

MPPSC Exam Pattern 2016
MPPSC Syllabus
MPPSC Study Material
MPPSC Quiz
MPPSC Test Series
MPPSC Previous Paper (Test)
MPPSC Current Affairs
MPPSC Previous Paper (PDF)


मध्य-प्रदेश लोक सेवा आयोग कि मध्य प्रदेश के उच्च पदों पर चयनित किये जाने वाले अधिकारियो के लिए भर्ती प्रक्रिया को पूर्ण कराता है एक संवैधानिक संस्था है संविधान में इसकी स्वतंत्रता, स्वायतता एवं अधिकारिता का उल्लेख किया गया है ताकि पारदर्शिता को बनाये रखने साथ-साथ योग्यता के चयन में दूरदर्शिता को प्रोत्साहन किया जा सके।
मध्य-प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा कई भर्ती प्रक्रियाओ को सम्पादित किया जाता है जिनमे नागरिक सेवाओ के लिए चयन विशेष महत्वपूर्ण है क्योंकि युवाओ के मध्य यह विशेष उत्साह का विषय होता है। इस परीक्षा में चयन के लिए प्रतिभागियो को तीन चरणों से गुजराना होता है जिनमे प्रारंभिक मुख्य एवं साक्षात्कार सम्मिलित है। जिनमे मुख्य परीक्षा के चार प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन के अतिरिक्त सामान्य हिंदी एवं निबंध लेखन के प्रश्न पत्र होते है। इस प्रकार कुल 1575 अंको की परीक्षा होती है जिनमे आवश्यक अंक प्राप्त कर सफलता को सुनिश्चित किया जा सकता है। किन्तु इस परीक्षा में उत्तीर्ण होना आसान नहीं क्योंकि यह परीक्षा युवाओ को आकर्षित करती है जिससे अधिक प्रतियोगिता का सृजन होता है प्रकार इसमें सफल होने के लिए उचित रणनीति एवं मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है इसके लिए ever exam ने प्रभावी एवं कारगर रणनीति के साथ MPPSC की तैयारी में सहयोग देने का श्रम साध्य कार्य अपने हाथ में लिया है ताकि छात्रों को सहयोग एवं देश के लिए योग्य एवं क्षमतावान युवाओ का चयन करा कर देश के विकास में सहयोग दिया जा सके।
इस प्रकार MPPSC के द्वारा ने केवल नागरिक सेवाओ बल्कि इसके अतिरिक्त अन्य सेवाओ के चयन में भागीदार होता है तथा मध्य-प्रदेश सरकार द्वारा की जाने वाली भर्तियों में आवश्यक विशेषता एवं परामर्श भी प्रदान करता है।

MPPSC Exam Pattern 2016 In Hindi
MPPSC SyllabusIn Hindi
MPPSC Study Material In Hindi
MPPSC Quiz In Hindi
MPPSC Test Series In Hindi
MPPSC Previous Paper (Test) In Hindi
MPPSC Current Affairs In Hindi
MPPSC Previous Paper (PDF)


RPSC

RPSC Exam Pattern 2016
RPSC Syllabus
RPSC Study Material
RPSC Quiz
RPSC Test Series
RPSC Previous Paper (Test)
RPSC Current Affairs
RPSC Previous Paper (PDF)

16 अगस्त 1949 में स्थापित राजस्थान लोक सेवा आयोग जो कि राजस्थान राज्य में उच्च पदों पर कार्यरत अखिल भारतीय सेवाओ के अतिरिक्त अधिकारियो की भर्ती प्रक्रिया को संपन्न कराता है कई परीक्षाओ का आयोजन करता है। जिनमे प्रमुख राजस्थान प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा आदि है, जिनके प्रति छात्रों में अधिक उत्साह होता है क्योंकि यह सीधे ही उच्च प्रशासनिक पदों के साथ-साथ, पद प्रतिष्ठा एवं सम्मान में वृद्धि करता है इसके अलावा समाज में उच्च स्थिति एवं सामाजिक भेदभाव को भी समाप्त करता है

अतः एक परीक्षा के माध्यम से इतना अधिक प्राप्त करने का अवसर होता है परिणामतः उत्साह अवश्यम्भावी है। . इसके द्वारा ली जाने वाली प्रमुख परीक्षा जो कि प्रशासनिक सेवा है में तीन चरण होते है प्रथम चरण प्रारंभिक परीक्षा का होता है जिसमे सामान्य ज्ञान एवं विज्ञान का 200 अंको का एक प्रश्न पत्र जबकि मुख्य परीक्षा अध्ययन के तीन प्रश्न पत्र एवं एक सामान्य हिंदी एवं अंग्रेजी का प्रश्न पत्र होता है। तथा अगला चरण साक्षात्कार का होता है। एक प्रकार इस विस्तृत पाठ्यक्रम की तैयारी एक श्रम साहय कार्य है। यह परीक्षा कड़ी मेहनत के अलावा सही रणनीति एवं आवश्यक अध्ययन सामग्री की मांग भी करती है परिणामतः छात्रों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए हमारी ever exam ने टीम कई प्रयास किये है जिनमे प्रमुख राजस्थान विशेष test paper एवं अध्ययन सामग्री है इसके अलावा मुख्य परीक्षा के लिए test series भी उपलब्ध करायी जाती है जिससे सही दिशा में छात्रों को प्रेरित किया जाता है। अतः आप हमारी विशेषज्ञता एवं कड़ी मेहनत से लाभान्वित हो सके इसके लिए आप विशेष सामग्री निम्न लिंक से प्राप्त कर सकते है।

RPSC Exam Pattern 2016 In Hindi
RPSC Syllabus In Hindi
RPSC Study Material In Hindi
RPSC Quiz In Hindi
RPSC Test Series In Hindi
RPSC Previous Paper (Test) In Hindi
RPSC Current Affairs In Hindi
RPSC Previous Paper (PDF)





About Us   |   Advertise with Us   |   Blog   |   Help

Copyright @ 2017 Everexam Pvt. Ltd. All rights are reserved